Home / Bollywood Updates / Mohalla Assi Film Struggled from two years

Mohalla Assi Film Struggled from two years

Mohalla Assi is a banned Indian Bollywood satirical film starring Sunny Deol and directed by Chandraprakash Dwivedi

 Mohalla Assi Film Struggled from two years

 
‎नयी दिल्ली।  दो साल से प्रदर्शन के लिए जूझ रही फिल्म मोहल्ला अस्सी के निर्माता  (क्रा्सवड इंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड) और सेंसर बोर्ड के बीच चल रही जंग अभी थमी नहीं है। हाई कोर्ट के (11 दिसंबर) के हफ्ते भर में फिल्म प्रदर्शित करने के आदेशों के बावजूद सेंसर के रवैये से असंतुष्ट निर्माता अदालत की शरण में है। आज समीक्षा याचिका पर सुनवाई है और 12 जनवरी को अवमानना याचिका सूचीबद्ध है। जो निर्माता द्वारा सेंसर बोर्ड के प्रमुख प्रसून जोशी पर दायर की गयी है। चूंकि सेंसर द्वारा प्रस्तावित दस में से नौ कट अदालत ने रद्द कर दिये थे। न्यायमूर्ति संजीव सचदेवा ने क्रा्सवड इंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड की याचिका पर सुनवाई करते हुए आदेश दिया था कि फिल्म को ‘ए’ प्रमाण पत्र दे। फिल्म प्रमाणन अपीलीय अधिकरण द्वारा दिये गये आदेश को कंपनी ने चुनौती दी थी। जिसने फिल्म को प्रदर्शन के लिए प्रमाण पत्र देने से मना कर दिया था। 
 
रोक- 30 जून 2015 को दिल्ली उच्च न्यायालय ने फिल्म के प्रदर्शन पर रोक लगा दी थी। क्योंकि इससे धार्मिक भावनाएं आहत होने की संभावनाएं जतायी गयी थीं। केन्द्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) व फिल्म प्रमाणन अपीलीय अधिकरण (एफसीएटी) के आदेशों को को क्रा्सवड ने चुनौती दी थी। जिन्होंने क्रमश: 14 जून व 24 नवंबर 2016 को आदेश दिये थे। सीबीएफसी ने प्रदर्शन के लिए प्रमाणपत्र जारी करने से ही मना कर दिया था। कहा गया कि फिल्म का स्वरूप और सामग्री पंथ, धर्म व पौराणिक कथाओं तक नहीं सीमित है। जबकि एफसीएटी ने 10 कट लगाने के बाद जरूरी समीक्षा करने की बात की थी। 
फिल्मकारों के अनुसार, जो फिल्म की पूरी थीम को नुकसान पहुंचाने वाले व घातक परिवर्तन थे। 
विवाद- मोहल्ला अस्सी को भी रिलीज़ होने से पहले ही विरोध का सामना करना पड़ा। इस फिल्म का ट्रेलर रिलीज़ होते ही इसका विरोध शुरू हो गया। इस फिल्म के तमाम किरदार गालियों की भाषा का इस्तेमाल तो कर ही रहे थे, भगवान शंकर बहुरूपिया भी गालियां बकते दिखाया गया था। फिल्म 28 जून 2015 को रिलीज़ होनी थी लेकिन विरोध शुरू होने पर 21 जून को सनी देओल और साक्षी तंवर के साथ साथ डॉ. चन्द्र प्रकाश द्विवेदी, रवि किशन, सौरभ शुक्ल, आदि पर एफ़आईआर दर्ज करा दी गई। अभिव्यक्ति की आजादी और आलोचनात्मक दृष्टिकोण बर्दाश्त करने की क्षमताओं पर प्रश्न चिन्ह लगते जा रहे हैं। न्यायमूर्ति संजीव सचदेवा ने स्वयं फिल्म को देखा और सेंसर के प्रत्येक सवाल का स्पष्ट जवाब भी विस्तार से दिया है। 
 
 सेंसर का जवाब- इलाहाबाद हाई कोर्ट ने फिल्म के खिलाफ दर्ज की गई याचिका पर सेंसर बोर्ड से जवाब मांगा तो सेंसर बोर्ड ने जवाब दिया कि फिल्म उनके पास सेंसर के लिए पहुंची ही नहीं है। बोर्ड ने फिल्म में गाली गलौच और धार्मिंक भावनाएं भड़काने के आधार पर फिल्म को प्रमाण पत्र देने से इनकार कर दिया। अदालत द्वारा फिल्म को एक कट के साथ हफ्ते भर में प्रदर्शित करने के आदेश के बावजूद सेंसर की मनमानी को निर्माता ने अदालत में चुनौती दी। यह स्पष्ट रूप से अदालत की अवमानना है। आतमविास खोकर सेंसर निजी कानूनी फर्म को नियुक्त कर लड़ाई को और खींचना चाह रहा है। 
 
 काशी का असी- प्रख्यात साहित्यकार काशीनाथ सिंह का उपन्यास है ‘काशी का असी’। जिस पर यह फिल्म आधारित है। दस वर्षो में इस पॉपुलर उपन्यास के 12 संस्करण आ चुके हैं तथा आलोचकों द्वारा इसको बहुत सराहा भी गया। इसका नाट्य रूपांतर दुनिया भर के मंचों पर विशेष स्थान पाता रहा है। सेंसर द्वारा जिस भाषा को आपत्तिजनक प्रचारित किया जा रहा है, वह वाराणसी की क्षेत्रीय भाषा है। उसे बोलने वाले सारे पात्र देसज हैं और मुख्य पात्र (सनी देओल) को संस्कृत का प्रकांड विद्वान दर्शाया गया है।  
 
इंतजार-  फिल्म का निर्देशन डाक्टर चन्द्र प्रकाश द्विवेदी का है। जिन्हें चाणक्य के रूप में प्रसिद्धि पायी है। यह उनका ड्रीम प्रोजेक्ट है। सनी देओल की प्रमुख भूमिका वाली इस फिल्म में साक्षी तंवर और भोजपुरी सुपर स्टार रविकिशन भी हैं। सेंसर के इस विवाद के दरम्यान फिल्म ऑन लाइन लीक हो चुकी है और इस पाइरेटेड वर्जन को देखने वालों ने इसे भरपूर सराहा भी है। सनी देओल अपने हर इंटरव्यू में इसकी प्रशंसा करते देखे जाते हैं।
 
 
 

Related posts:

About admin

Check Also

Dhadak Movie Review

Dhadak Movie Review By Deepak Dua   रिव्यू-‘धड़क’ न तो ‘सैराट’ है न ‘झिंगाट’ -दीपक दुआ…  …

One comment

  1. Oh no bad news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *